Bhutan facts in hindi | भूटान देश के बारे में 30 रोचक तथ्य


Bhutan facts in Hindi: Bhutan पूर्वी हिमालय पर बसा दक्षिण एशिया का एक छोटा क्षेत्रफल वाला देश है। यह तिब्बत (चीन) और भारत के बीच स्थित भूमि आबद्ध (land lock) देश है। यह देश पहाड़ियों से घिरा हुआ क्षेत्र है। इस आर्टिकल में आप जानेंगे भूटान के बारे में दिलचस्प रोचक तथ्य, interesting Bhutan facts in hindi.

भूटान देश की संक्षिप्त जानकारी

राजस्थानी थिंपु
क्षेत्रफल 38,394 km² (133वां)
महाद्वीप एशिया
जनसंख्या 7,27,145 (2022)
अधिकारिक भाषा जोंगखा
मुद्रा भूटानी न्गुल्ट्रम, भारतीय रुपया

Amazing facts about Bhutan in hindi – भूटान से जुड़े रोचक तथ्य

1. Bhutan का लगभग 65% क्षेत्रफल जंगल से घिरा है।

2. भूटान दुनिया का पहला ऐसा देश है जहां पर्यावरण की रक्षा के लिए अपने लोगों का विशिष्ट संवैधानिक दायित्व है। भूटान के नियम के अनुसार भूटान का 60% क्षेत्रफल हमेशा वन के दायरे में रहना चाहिए।

3. भूटान में प्लास्टिक की थैलियां पूर्णतः प्रतिबंधित है।

4. Bhutan में क्राइम रेट बहुत कम है। यह देश दुनिया के शीर्ष 20 खुशहाल देशों में से एक है।

5. भूटान में विवाह कानून के अनुसार वहां बहुविवाह की अनुमति है। लेकिन समय के साथ भूटान में यह प्रथा अस्तित्वहीन हो रही है।

6. भूटान के लोग बिना वीजा के साथ भारत की सीमा पार कर सकते हैं और बिना किसी रोक-टोक के भारत में काम कर सकते हैं।

7. Bhutan में जानवरों का या पक्षियों का शिकार करना गैरकानूनी है।

8. भूटान की लगभग 80% आबादी खेती करती है।

9. Bhutan की सेना रॉयल भूटान आर्मी, रॉयल बोडीगार्ड्स और रॉयल भूटान पुलिस का संयुक्त नाम है। भूटान एक land loc देश है, इसलिए इस देश के पास कोई नौसेना नहीं है। भूटान के पास वायुसेना भी नहीं है। वायुसेना के रूप मे भूटान की मदद भारतीय वायु सेना करती है।

10. नेपाल के बाद सबसे ज्यादा हिमालय पर्वत श्रृंखला के ऊंचे पर्वत भूटान में हैं।

11. भूटान के राजा को उनके विनम्र व्यक्तित्व और मानवीय प्रयासों के लिए जाना जाता है। पीपल्स किंग कहे जाने वाले महामहिम “जिगमे खेसर” ने अपने देश के लगभग प्रत्येक नागरिक से मुलाकात की है। वह लोगों से व्यक्तिगत रूप से उनके दुख और आवश्यकताओं के बारे में बात करना पसंद करते हैं।

12. भूटानी लोग येती (दैत्य) पर अभी भी विश्वास करते हैं।

13. भूटान में 1974 से पहले किसी भी विदेशी पर्यटकों को यहां आने की अनुमति नहीं थी।

14. भूटान में कोई भी ट्रैफिक लाइट्स नहीं है। भूटानी लोग वाहन बहुत धीमी गति से और सावधानी से चलाते हैं, इसलिए ट्रैफिक लाइट की आवश्यकता ही नहीं होती।

15. भूटानी लोग मसालेदार भोजन खाना पसंद करते हैं। मिर्च को यहां मसाला नहीं माना जाता बल्कि सब्जी माना जाता है, जो भोजन को स्वाद प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण है।

16. भूटान तंबाकू पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने वाला दुनिया का पहला ऐसा देश है।

17. भूटान में शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं सभी नागरिकों के लिए मुफ्त है। सरकार ने सभी के लिए मुफ्त स्वास्थ्य और शैक्षणिक सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं हैं।

18. भूटान में लिंग की आकृति भूटान के अधिकांश घरों में देखने को मिल जाएगी क्योंकि भूटानी संस्कृति के अनुसार लिंग की आकृति बुरी आत्माओं को दूर भगाने और लोगों के लिए सौभाग्य लाने के लिए जानी जाती है।

19. भूटान टीवी को पेश करने वाले अंतिम देशों में से एक है। भूटान में सन् 1999 में टीवी की शुरुआत हुई थी।

20. भूटान के पारो हवाई अड्डे में उड़ान के लिए केवल 8 पायलटों को हि मान्यता प्राप्त है। पारो हवाई अड्डा पूरी दुनिया में उतरने के लिए सबसे खतरनाक हवाई अड्डे के रूप में जाना जाता है।

21. Bhutan दुनिया के कार्बन नेगेटिव देश में से एक है। अर्थात्, यह देश कार्बन का जितना उत्पादन करता है, उससे अधिक कार्बन डाइऑक्साइड को अवशोषित करता है।

22. भूटान में जिन लोगों का जन्मदिन याद नहीं रहता वह नए साल के दिन अपना जन्मदिन मनाते हैं।

23. Bhutan की 84.3% आबादी बौद्ध तथा 11.3% आबादी हिंदू धर्म का पालन करती है।

24. भूटान की अर्थव्यवस्था कृषि, वन, पर्यटन और भारत को पनबिजली निर्यात करने पर निर्भर है।

25. भूटान की मुद्रा भारतीय रुपए के बराबर है।

26. Bhutan की राष्ट्रीय पोशाक में दुनिया की सबसे लंबी जेब है, जिसमें वह अपनी आवश्यकता की चीजें रखते हैं।

27. भूटान का राष्ट्रीय पशु टाकिन है, जो हिरण और बकरी की तरह दिखता है। यह मुख्यता हिमालय के पहाड़ी क्षेत्रों में पाए जाते हैं।

28. कोई भी विदेशी पर्यटक को भूटान में घूमने के लिए प्रतिदिन $200-$250 प्रतिदिन देना पड़ता है। हालांकि, भारतीय पर्यटकों के लिए ऐसा कोई भी चार्ज नहीं है।

29. Bhutan को “Land of the Thunder Dragon” के नाम से भी जाना जाता है।

30. 6 दिसंबर 1971 में भूटान और भारत बांग्लादेश की स्वतंत्रता को मान्यता देने वाले दुनिया के पहले देश बने।

यह भी पढ़ें



Source link